Gorilla Glass क्या होता है और यह कितना मजबूत है
  • Post author:
  • Post last modified:अप्रैल 5, 2020

आजकल हर फ़ोन में Display की सुरक्षा के लिए Gorilla Glass लगा होता है, पर क्या आप जानते है Gorilla Glass कैसे बनता है यह कितना मजबुत है और इसके पीछे विज्ञान क्या है ??

आज हमलोग Gorilla Glass पर बात करेंगे और इसके बारे में विस्तारपूर्वक जानेंगे, तो आइये सबसे पहले जानते है की ये होता क्या है ?

1.संक्षिप्त विवरण 

आज हम सब इक्कीसवी सदी में जी रहे है और आज से लगभग 5000 साल पहले ग्लास की खोज की गयी थी,धीरे-धीरे यह सभी के द्वारा इस्तेमाल किया जाने लगा और तब ग्लास इतना मजबुत नहीं था जितना आज है |
बढ़ते हुए तकनीक की लहर सीसा को अनछुए कैसे रह जाती इसीलिए लगातार ऐसे सीसा का खोज किया जा रहा है जो अटूट हो और इस छेत्र में Gorilla Glass अव्वल है जिसका इस्तेमाल आजकल के लगभग सभी स्मार्ट डिवाइस में किया जा रहा है |
यह अन्य ग्लास से कैसे अलग है ये हम आगे जानेंगे और आप सोच रहे होंगे की इसका नाम Gorilla क्यों रखा गया ?
gorilla-animal
वो ऐसा इसलिए क्योंकी गोरिल्ला ,पशु साम्राज्य में मजबूत जीवों में से एक है |
Fact :- क्या आप जानते है गोरिल्ला ग्लास 1.6 मीटर की ऊंचाई से गिरने के बाद भी नहीं टूटता !

2. गोरिल्ला ग्लास की खोज कैसे हुई ?

बात 1952 की है जब CORNING कंपनी की लैब में रिसर्च चल रहा था |

एक फर्नेस (चूल्हा) में ग्लास को टेस्ट के लिए रखा गया था और किसी वजह से कोई उसपर ध्यान नहीं दिया और उस फर्नेस की तापमान 900 डिग्री सेल्सियस पहुँच चुका था और वह ग्लास पिघलने के बजाये एक नया ग्लास बन चुका था जो काफी मजबुत था !

यहीं से गोरिल्ला ग्लास का सफ़र शुरू हुआ और आज हर फ्लैगशिप स्मार्टफ़ोन या स्मार्ट डिवाइस में गोरिल्ला ग्लास लगा होता है |

इसकी खासियत क्या है आइये जानते हैं :

क्षति रोधक : गोरिल्ला ग्लास क्षति रोधक के लिए ही मशहूर है हालाँकि यह पुरी तरह से क्षति रोधक नहीं है इसमें खरोंच आते है पर और ग्लास के मुकाबले काफी कम |

विरल (पतला ): गोरिल्ला ग्लास 0.4 mm से 2 mm तक बने जा सकता है और हैरानी की बात यह है की 0.4 mm में भी यह उतना ही मजबुत रहता है |

टच स्क्रीन फ्रेंडली : गोरिल्ला ग्लास का इस्तेमाल आजकल के टच स्क्रीन जैसे डिवाइस में किया जा रहा है |

3. Gorilla Glass कितना मजबुत होता है ?

आप गोरिल्ला ग्लास का मजबुती इस बात से लगा सकते हैं की गोरिल्ला ग्लास 5 जो 1.6 m की ऊंचाई से गिरकर भी टूटता नहीं है |

यह अटूट नहीं है परन्तु काफी मजबूत है ,और लगातार इसे और बेहतर बनाने की कोशिश की जा रही है |

आप कोर्निंग की टेस्टिंग यहाँ देख सकते हैं |

4. कैसे बनता है गोरिल्ला ग्लास ?

गोरिल्ला ग्लास बनाने का तरीका बड़ा ही आसान है और इसे कोर्निंग के लैब में बनाया जाता है तो आइये  इसे 2 आसान स्टेप्स में समझते है :

Fusion प्रोसेस : यह प्रोसेस गोरिल्ला ग्लास को सतह की गुणवत्ता, ऑप्टिकल स्पष्टता और निहित आयामी स्थिरता प्रदान करता है |

यह प्रक्रिया कच्चे माल से शुरू होता है जिसे पिघलाकर एक “isopipe” में डाला जाता है जब तक की दोनों तरफ से ग्लास बहने न लगे,फिर यह धीरे धीरे ग्लास शीट में कन्वर्ट किया जाता है ताकि इसे microns में नापा जा सके और इस दौरान यह किसी भी चीज से अछूता रहता है और यह फिर अगले प्रोसेस के लिए तैयार है |

ISOPIPE

 

ION-EXCHANGE प्रोसेस : आयन एक्सचेंज एक रासायनिक प्रक्रिया है जिसमे बड़े आयन को कांच की सतह पे जमा किया जाता है जिससे दबाव पैदा होता है,फिर ग्लास को 400 डिग्री सेल्सियस के तापमान पर पिघला हुआ नमक के टब में डुबाया जाता है |

छोटे सोडियम आयन कांच को छोड देता है और उसके जगह पोटैशियम ले लेता है, और जब यह ठंडा होता है तो काफी दबाव बनाता है और इस कारण यह टूटता नहीं है |

Isopipe

 

तो अब तक आप इसके पीछे विज्ञान को जान गए होंगे अब बात करते है की यह कितने प्रकार का होता है |

5. गोरिल्ला ग्लास कितने प्रकार के है ?

सबसे पहला गोरिल्ला ग्लास 2008 में बनाया गया था और धीरे धीरे इसके नए संस्करण आने लगे |

  1. Gorilla Glass 2 – 2012
  2. Gorilla Glass 3 – 2013
  3. Gorilla Glass 4 – 2014
  4. Gorilla Glass 5 – 2016
  5. Gorilla Glass SR+ – 2016
  6. Gorilla Glass 6 – July 2018

Note :- गोरिल्ला ग्लास SR+ का इस्तेमाल स्मार्ट वाचेज में करने के लिए बनाया गया है |

यह भी पढ़े : 

6. Gorilla Glass रीसायकल हो सकता है की नहीं ?

गोरिल्ला ग्लास भले ही मजबुत हो परन्तु आखिर में तो ग्लास ही है इसीलिए इसको आसानी से रीसायकल किया जा सकता है |

दुसरे ग्लास के मुकाबले इससे प्रकृति को हानी भी नहीं पहुँचता है |

7. Antimicrobial गोरिल्ला ग्लास क्या होता है ?

Antimicrobial गोरिल्ला ग्लास सामान्य गोरिल्ला ग्लास के जितना ही मजबुत होता है परन्तु यह बैक्टीरिया को भी कम करता है और इसके लिए इसमें सिल्वर आयन डाला जाता है जो की बैक्टीरिया रोधी होता है |
इस ग्लास का मकसद टच डिवाइस में स्वच्छता प्रदान करना है |

8. गोरिल्ला ग्लास कौन बनाता है ?

गोरिल्ला ग्लास  Corning Inc नामक कंपनी के द्वारा बनाया जाता है जो एक अमेरिकन कंपनी है जिसका स्थापना 1851 Corning Glass Works के नाम से की गयी थी और बाद में

1989 में Corning Inc के नाम से बदला गया |
इस कंपनी का मुख्यालय Newyork में है और इसके रिसर्च सेंटर जापान और ताइवान में भी है |

9. गोरिल्ला ग्लास का इस्तेमाल कौन कौन करते हैं ?

गोरिल्ला ग्लास का इस्तेमाल कई कंपनी कर रही है और डिवाइस की बात करे तो स्मार्टवाच ,स्मार्टफ़ोन,टेबलेट,लैपटॉप और भी कई स्मार्ट डिवाइस में इसका इस्तेमाल किया जा रहा है |
गोरिल्ला ग्लास किस किस प्रोडक्ट में इस्तेमाल किये गए है जानने के लिए यहाँ क्लिक करें (source – corning.com) 

10. गोरिल्ला ग्लास कहाँ से ख़रीदे ?

Corning कंपनी बड़े पैमाने पे गोरिल्ला ग्लास का उत्पादन करती है और वो ऐसे कंपनी को देती है जो अपने डिवाइस में इस ग्लास का प्रयोग करना चाहते है |

11. Gorilla Glass के अलावा दुसरा विकल्प क्या है ?

Corning गोरिल्ला ग्लास का सबसे बड़ा प्रतिद्वंद्वी Asahi Glass Co’s Dragontail  है जो इससे काफी मिलता-जुलता है |
Dragontail का इस्तेमाल Sony,Samsung और XOLO जैसे कंपनी के द्वारा किया जा चुका है |

सारांश 

उम्मीद है की आपको गोरिल्ला ग्लास के बारे में अच्छे से समझ में आया होगा, यदि आपको अभी भी कोई परेशानी हो तो निचे कमेंट करके बताएं |

Gorilla Glass Funny

 ऐसा बिलकुल भी नहीं है की गोरिल्ला ग्लास को बनाने के लिए गोरिल्ला को क्षति पहुँचाया जाये 😆 

आप अपने दोस्तों के साथ इस जानकारी को शेयर कर सकते है, धन्यवाद |

Smartphone तकनीक से जुडी चर्चा करने के लिए Facebook Group जरुर ज्वाइन कीजिये |

Raushan Kumar

I love to do discuss on latest Technology and Innovation