Refresh Rate (60Hz,90Hz) क्या होता है, FPS vs Refresh Rate
  • Post author:
  • Post last modified:June 23, 2020
  • Reading time:1 min(s) read

आप कभी न कभी 90Hz,120Hz या 144Hz Display के बारे में तो जरुर सुने होंगे और आजकल ये सारे फ़ोन के महत्वपूर्ण Specs में जुड़ते जा रहा है, आज हम Refresh Rate,FPS और Touch Response Rate के बारे में बात करने वाले है |

आइये सबसे पहले जानते है की Refresh Rate क्या होता है …

Refresh Rate क्या होता है ?

Refresh Rate comparison

Refresh Rate का मतलब होता है की “एक सेकंड में Display के ऊपर कितनी बार Image को Paint किया जाता है”, इसे Hertz (Hz) में मापते है |

सीधे शब्दों में समझे तो एक सेकंड में Display के Panel कितनी बार Data refresh करता है उसे Refresh Rate कहते है |

जैसे की मान लीजिये एक फ़ोन की Display के Panel एक Second में 60 बार Data Refresh कर रहा है तो उसे 60Hz Refresh Rate बोलेंगे वही दूसरा फ़ोन 90 बार कर रहा है तो उसे 90Hz Refresh Rate बोला जायेगा |

Higher Refresh Rate के बहुत सारे फायदे और नुक्सान है जो की हम आगे जानेंगे पर इससे Latency भी कम हो जाती है |

इसलिए Gaming के लिए Higher Refresh rate वाला Display इस्तेमाल करने के लिए सलाह दिया जाता है |

कई बार लोग Refresh rate और Touch Response Rate में भ्रमित हो जाते है पर ये दोनों अलग अलग चीज है, परन्तु इसे भी Hz में ही मापा जाता है |

यदि आपको Refresh Rate का Demo अच्छे से देखना है तो testufo के वेबसाइट पर जाएँ |

Touch Response Rate

तो “एक second में User के Input को कितनी बार देखता है” उसे Touch Response Rate कहते है ,ये Refresh Rate से अलग है परन्तु अनुभव को जरुर बेहतरीन बनाता है खासकर Game में |

Touch रिफ्रेश रेट और डिस्प्ले रिफ्रेश रेट दोनों ही 60Hz होंगे तो एनीमेशन का रेंडर मामूली से अंतराल के बाद दिखाई देगा जो की थोडा सा Laggy लगता है |

अगर टच रिफ्रेश रेट 120Hz हो और 60Hz डिस्प्ले रेट तो तो एनीमेशन काफी Smooth दिखाई देगा लेकिन 120Hz रिफ्रेश रेट बिलकुल अलग चीज है |

जब Latency की बात आती है तो एक 60Hz वाले Display को Refresh होने में 16.6ms लगता है, 90Hz के लिए 11.1ms और 120Hz वाले डिस्प्ले में सिर्फ 8.3ms ही लगता है |

इससे आप अंदाज लगा सकते है की Higher Refresh Rate वाला फ़ोन आपके अनुभव को कैसे बदल सकता है!

यह भी पढ़े :-

RAM ROM Cache Memory क्या होता है ?

Smartphone में प्रोसेसर कैसे काम करता है ?

Smartphone में इस्तेमाल किये जाने वाले बैटरी के तकनीक – Lithium Ion,Lithium Polymer

FPS क्या होता है?

Frame Per Second जैसा की नाम से ही पता चलता है की एक Second में कितना Frame, जैसा की हमलोग जानते है कोई भी Video हो वो एक ढेर सारे स्थिर Image से बनता है |

बहुत सारे स्थिर Image को एक सही कतार से देखा जाये तो वो हमें Video लगता है जो की हमारे मस्तिष्क को धोखा देता है और हमें लगता है की कोई वस्तु चल रही है |

अब जितनी ज्यादा Frame एक second में हम देखेंगे उतना ही हमें ज्यादा से ज्यादा Smooth लगेगा |

कई बार लोग Refresh Rate को FPS (Frame Per Second) ही समझ लेते है परन्तु इन दोनों में बहुत ही अंतर है |

Frame Rate आपके GPU पर निर्भर होता है पर Refresh रेट आपके Display का Feature होता है कभी कभी ये दोनों अलग भी हो सकते है जिसे Screen Tearing कहते है |

कई बार ऐसा होता है की GPU ढेर सारे Frame एक Second में Render कर देता है परन्तु आपका Display (60Hz) सिर्फ 60 बार ही Refresh कर पाता है |

हालाँकि फ़ोन में इसकी उतनी ज्यादा दिक्कत नहीं होती परन्तु कंप्यूटर में अक्सर होता है खैर उम्मीद है की आपको FPS और Refresh Rate में अंतर समझ आ गया होगा |

High Refresh Rate के फायदे एवं नुकसान

ज्यादा Refresh Rate होने से, Lag Free और बेहतर अनुभव मिलता है और खासकर यदि आप फोन में Gaming करते है तो आपको बेहद फायदा होगा |

परन्तु ये सभी का एक ही नुकसान है की बैटरी ज्यादा खपत होता है इसलिए आजकल के फ़ोन में इसे Software से मैनेज किया जाता है जिससे बैटरी को बचाया जा सके |

जैसे की मान लीजिये आप कैलकुलेटर इस्तेमाल कर रहे है तो इसमें ज्यादा Refresh रेट का जरुरत नहीं है इसलिए इस समय सॉफ्टवेयर के मदद से बैटरी का खपत कम किया जा सकता है |

दूसरी बात ये है की ज्यादा Refresh रेट वाले फ़ोन बजट में नहीं आते है, अभी सिर्फ Realme 6 ही है जो बजट में 90Hz देता है |

Best Phone Under 15000

सारांश

अभी ज्यादा Refresh रेट वाले फ़ोन महंगे होते है और इसे काफी जोर शोर से प्रचार किया जाता है जैसे की OnePlus 7 Pro में काफी 90Hz की Display बहुत चर्चित था |

तो आपके लिए ज्यादा Refresh रेट कितना मायने रखता है ?

ये आपके ऊपर निर्भर करता है की आप फ़ोन को किसलिए ज्यादा इस्तेमाल करते है जैसे की ज्यादा Gaming या Media के लिए |

यदि आप ज्यादा Gaming करते है तो ज्यादा Refresh रेट एक बेहतर अनुभव दे सकता है परन्तु यदि आप ज्यादा Movie या Video देखते है तो AMOLED डिस्प्ले पे ध्यान देना चाहिए |

इसलिए अधिकतर Gaming फ़ोन में ज्यादा से ज्यादा Refresh Rate मिलना आम बात है जैसे की Nubia Red Magic 3 में 144Hz की रिफ्रेश रेट है!

यदि AMOLED डिस्प्ले पे Higher Refresh Rate मिलता है तो बहुत ही अच्छी बात है पर यदि IPS या AMOLED के बिच की बात करे तो आप अपने जरुरत के अनुसार ही चुने |

हमेशा ज्यादा Refresh रेट आपके लिए बेहतर नहीं हो सकता इसलिए फ़ोन खरीदने समय इसका ध्यान अवस्य रखे!

यदि आपको पोस्ट पसंद आया हो तो अपने दोस्तों के साथ शेयर करे और कोई भी सवाल हो तो निचे कमेंट जरुर करे धन्यवाद!

source :-

featured image  – Android Authority

Refresh Rate GIF – Wikipedia

Raushan Kumar

I love to do discuss on latest Technology and Innovation